ताज़ा तरीन

नशे का बढ़ता संकट: इस रात की सुबह नहीं

नशे का बढ़ता संकट: इस रात की सुबह नहीं

नशा भारत में एक ऐसी बढ़ती हुई प्रवृत्ति है जिसने आज आने वाली पीढ़ियों के लिए संकट खड़ा कर दिया है हमारे देश का युवा जो कि इस देश का मानव संसाधन है जिसकी शुद्धता पर ही देश का भविष्य निर्भर है आज बहुत जबरदस्त तरीके से नशे की गिरफ्त में है भारत में ,16-17 […] Read more

पुस्तक समीक्षा : गहन है यह अन्धकारा

पुस्तक समीक्षा : गहन है यह अन्धकारा

अशोक पाण्डे    पुलिस तफ्तीश करती है और कई तरह की पूछताछों, शिनाख्तों और अनुसन्धानों के बाद अपराधी का पता लगा लेती है. अमित श्रीवास्तव के सद्यः प्रकाशित उपन्यास ‘गहन है यह अन्धकारा’ का कथानक इतना ही है. सिर्फ कथानक की बात करेंगे तो यह किसी क़त्ल की अखबारी रिपोर्ट या हद से हद मनोहर […] Read more

सम्पादकीय

कश्मीर घाटी की कैद

कश्मीर घाटी की कैद

राजीव लोचन साह कश्मीर घाटी को कैद में गये हुए दो माह होने को हैं, मगर देश की सामूहिक चेतना में वह बेचैनी बहुत कम देखने को आ रही है, जो किसी संवदेनशील समाज में होनी चाहिये। एक निरपराध व्यक्ति को हिरासत में ले लिये जाने पर लोगों की सहानुभूति जगने लगती है। मगर यहाँ […] Read more

डाॅ. शमशेर सिंह बिष्ट की पहली बरसी

डाॅ. शमशेर सिंह बिष्ट की पहली बरसी

एक वर्ष पूर्व उत्तराखंड के जन नायक डाॅ. शमशेर सिंह बिष्ट की पहली बरसी है। 22 सितम्बर 2018 को एक लम्बी बीमारी के बाद वे इस दुनिया को अलविदा कह गये थे। उनकी बरसी को उत्तराखंड के और देश भर के संघर्षशील लोगों ने एक ऐसे अवसर के रूप में देखा है, जिसमें वे एक […] Read more

आशल कुशल

देश दुनिया

अभिजीत बनर्जी: नोबेल पुरस्कार विजेता को जानते हैं आप

अभिजीत बनर्जी: नोबेल पुरस्कार विजेता को जानते हैं आप

भारतीय-अमरीकी अर्थशास्त्री अभिजीत विनायक बनर्जी को इस साल का अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार दिया गया है. यह पुरस्कार उन्हें उनकी पत्नी इश्तर डूफलो और म... Read more

किताबें

पुस्तक समीक्षा : गहन है यह अन्धकारा

पुस्तक समीक्षा : गहन है यह अन्धकारा

अशोक पाण्डे    पुलिस तफ्तीश करती है और कई तरह की पूछताछों, शिनाख्तों और अनुसन्धानों के बाद अपराधी का पता लगा लेती है. अमित श्रीवास्तव के सद्यः प्... Read more

उत्तराखंड में विगत 50 सालों के राजनैतिक-सामाजिक-आर्थिक हालातों की पड़ताल

उत्तराखंड में विगत 50 सालों के राजनैतिक-सामाजिक-आर्थिक हालातों की पड़ताल

डाॅ. अरुण कुकसाल यह जांचा-परखा सर्वमान्य तथ्य है कि अध्ययन और यात्राओं से आदमी की जीवन दृष्टि और दिशा परिपक्वता की ओर उन्मुख होती है। उस व्यक्ति का बद... Read more

साहित्य और संस्कृति

अपने ही कलाकारो का तिरस्कार

अपने ही कलाकारो का तिरस्कार

नीरज भट्ट मैं ये बात अब कहना जरूरी समझता हूँ या अब चुप नहीं रहा जाता । कल ठीक इसी समय फ़ोन पर अपने दगड़ी से इस बात पर चर्चा हो रही थी कि एक महान लोकगायि... Read more

गढ़वाली, कुमाउनी और जौनसारी भाषा और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए एकेडमी का गठन

गढ़वाली, कुमाउनी और जौनसारी भाषा और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए एकेडमी का गठन

मौर्या गढ़वाली, कुमाउनी और जौनसारी भाषा और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया ने एक एकेडमी गठित कर दी है। मशहू... Read more

पर्यावरण

चिड़िया सीधी-सादी सी

चिड़िया सीधी-सादी सी

देवेन्द्र मेवाड़ी दिन भर घर-आंगन और फूलों की क्यारियों में भोजन तलाशते सतभय्यों यानी जंगल बैबलर की टोली पश्चिम दिशा से सांझ को उतरते देख, आपस में चुक-... Read more

All rights reserved www.nainitalsamachar.org