ताज़ा तरीन

अलविदा सरदार नरेन्द्रपाल सिंह

अलविदा सरदार नरेन्द्रपाल सिंह

विनोद पाण्डे ये कोविड न जाने किस-किस को छीनने वाला है। आज आखिर नरेन्द्रपाल सिंह की कोरोना से मृत्यु की खबर आ ही गई। लगभग एक सप्ताह पहले उनके देहान्त की अफवाह उड़ी थी, मगर जल्दी ही मालूम पड़ गया कि यह झूठ है। हम लोग खुश हुए, क्योंकि एक अंधविश्वास है कि अगर किसी […] Read more

फिर फटा बादल उत्तराखंड की पहाड़ियों में

फिर फटा बादल उत्तराखंड की पहाड़ियों में

अनिल खेरियाल उत्तराखंड  एक तरफ वैश्विक महामारी की मार झेल रहा है और दूसरी ओर एक के बाद एक आ रही प्राकृतिक आपदाओं ने उत्तराखंड को हलकान कर दिया है । रैणी में आई आपदा से उभर भी नहीं पाए थे कि  अभी कुछ दिन पूर्व ही उत्तरकाशी चिन्याली के पास , रुद्रप्रयाग के पास  […] Read more

सम्पादकीय

देश के पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव

देश के पाँच राज्यों में विधानसभा चुनाव

राजीव लोचन साह देश के पाँच राज्यों में विधानसभा के चुनाव होने जा रहे हैं। इनमें तीन प्रान्त, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी, दक्षिण में हैं तो पश्चिमी बंगाल और असम देश के पूर्व और पूर्वोत्तर में। मगर आश्चर्य की बात यह है कि अखबारों को देखें तो इन पाँच प्रदेशों में से सिर्फ प. बंगाल […] Read more

देश में हड़तालों का दौर है

देश में हड़तालों का दौर है

राजीव लोचन साह देश में हड़तालों का दौर शुरू हो गया है। चार महीने से राजधानी दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे किसानों के आन्दोलन का अभी कोई समाधान नहीं निकला है, बावजूद इस तथ्य के कि इस दौरान लगभग तीन सौ आन्दोलनकारी शहीद हो गये हैं। विवश होकर अब इन किसानों को पाँच राज्यों, जहाँ […] Read more

आशल कुशल

देश दुनिया

न्यूज़ डाइट

न्यूज़ डाइट

सुशील उपाध्याय आप अक्सर हेल्दी डाइट के बारे में सुनते हैं। कभी न्यूज़ डाइट के बारे में सुना है! यकीनन, बहुत कम लोगों ने सुना होगा। यह एक नई टर्म है जो... Read more

आचरण की सभ्यता

आचरण की सभ्यता

राजीव नयन बहुगुणा ये बात मेरे बचपन की है साल भी पता चल सकता है पर उसकी जरुरत नहीं है | मेरी ज़िन्दगी के कई लीडरशिप लेसन में से मैं उसे पहला मानता हूँ |... Read more

किताबें

‘‘बत्तीस राग गाओ मोला’’ : प्रारंभिक आधुनिक कला चेतना का साक्ष्य

‘‘बत्तीस राग गाओ मोला’’ : प्रारंभिक आधुनिक कला चेतना का साक्ष्य

डॉ. सुशील त्रिवेदी हरिसुमन बिष्ट उत्तराखण्ड के शीर्षस्थ साहित्यकार हैं। उनके उपन्यास, कहानी, नाटक और यात्रा वृतांत पूरे हिन्दी क्षेत्र में अपनी मिट्टी... Read more

पुस्तक समीक्षा

पुस्तक समीक्षा

प्रदीप पाण्डे ‘मेरा ओलियागांव ’ अतीत की यादें ही रह जाती हैं और अपनी किताब ‘मेरा ओलियागांव ’ के माध्यम से हिंदी के ख्यातनाम साहित्यकार शेख... Read more

साहित्य और संस्कृति

कुछ अतिरिक्त पंक्तियाँ : 'पहल’ का आख़िरी अंक

कुछ अतिरिक्त पंक्तियाँ : ‘पहल’ का आख़िरी अंक

ज्ञानरंजन ‘पहल’ का अंक 125 हमारी और उसकी यात्रा का अब आख़िरी अंक होगा। अभी तक यह ख़बर अफ़वाहों में थी जो सच निकली। यह निर्णय हमारे और ‘पहल’ स... Read more

कुछ पंक्तियां :  'पहल’ का अंतिम अंक

कुछ पंक्तियां : ‘पहल’ का अंतिम अंक

राजकुमार केसवानी दोस्तों, यह ‘पहल’ का अंतिम अंक है। इस एक वाक्य को लिखने के लिए जितने साहस की आवश्यकता थी, उसे जुटाने में कई माह लग गए। इससे आगे... Read more

पर्यावरण

फिर फटा बादल उत्तराखंड की पहाड़ियों में

फिर फटा बादल उत्तराखंड की पहाड़ियों में

अनिल खेरियाल उत्तराखंड  एक तरफ वैश्विक महामारी की मार झेल रहा है और दूसरी ओर एक के बाद एक आ रही प्राकृतिक आपदाओं ने उत्तराखंड को हलकान कर दिया है । रै... Read more

पेड़ों की अंधाधुंद कटान

पेड़ों की अंधाधुंद कटान

डॉ. चंदन सिंह अधिकारी जब ग्राम प्रधान, लोगों व प्रकृति के प्रति संवेदशील होते हैं तो वह गांव को स्वर्ग बना सकते हैं, परन्तु यदि उन्हें पर्यावरण की समझ... Read more

All rights reserved www.nainitalsamachar.org